11/04/2021

How to Make a Career in Acting

Read Time : 4 min

(एक्टिंग में करियर कैसे बनाएं)

अभिनेता दिल का एथलीट है। (The actor is an athlete of the heart)

Acting (अभिनय) एक व्यक्ति को सीखने के लिए सबसे अनोखी कौशलों में से एक है। अपने स्कूल-कॉलेज में अभिनय करने के दौरान लगभग सभी कभी न कभी career in Acting के बारे में सोचते हैं। लेकिन एक्टिंग में वही लोग सफल होते हैं जो एक्टिंग किए बिना रह ही नहीं सकते। आज के जमाने में टीवी इंडस्ट्री, फिल्म इंडस्ट्री भारत की सबसे तेज ग्रोथ वाली इंडस्ट्री है। इसमें करियर बनाने के लिए कई ऑप्शंस होते हैं, जिसमे आगे बढ़ा जा सकता है। अभिनय (Acting) में एक सफल करियर के लिए समान भाग प्रतिभा और अभ्यास की आवश्यकता होती है। काम पर अभिनेताओं को हर जगह देखा जा सकता है और सुना जा सकता है: टीवी, बड़े स्क्रीन, थियेटर, इंटरनेट पर, वीडियो में और पॉडकास्ट पर।

आज के 40% युवा का acting line में जाने का सपना है। किसी भी काम को करने से पहले हमे यह जानना बहुत ज़रूरी है की, आखिर वजह क्या है हमे उस काम को करने की? क्यों हम उस काम को करना चाहते हैं?

वजह कुछ भी हो Acting अगर आपको नहीं आती तो आप एक्टिंग लाइन में कभी भी नहीं जा सकते।

कहते हैं काम ऐसा करो की नाम बन जाये, और नाम ऐसा कमाओ की काम बन जाये”

अगर आप फिल्म इंडस्ट्री में चले गये तो यकीन मानिये आपके दोनों ही काम बहुत ही आसानी से होंगे क्यूंकि इस इंडस्ट्री में-

  • नाम
  • पैसा
  • इज्ज़त
  • शोहरत
  • फैन फोल्लोविंग

सब कुछ मिलता है सिर्फ ज़रुरत है की आप एक्टिंग करने में माहिर होने चाहिए।

एक अभिनेता बनने के लिए Step:

Thetre is a good option to start career in acting

हो सके तो स्कूल टाइम से ही थिएटर जाएँ। अभिनय करियर का मार्ग वास्तव में स्कूल नाटकों और संगीत में शुरू हो सकता है। उसक बाद कॉलेज में भी प्रैक्टिस करते रहें।

Theater

बॉलीवुड में काफी ऐसे एक्टर हैं जिन्होंने थिएटर में काम करके आज अपना नाम बनाया है| जैसे की – Nawazuddin Siddiqui, Anupam Kher, Naseeruddin Shah, Irrfan Khan और भी ऐसे बड़े एक्टर हैं।

  • थिएटर में आपको रोल मिलेंगे जिसमे आपको पुरे मन से उस रोल में घुस के उस किरदार को निभाना है, इससे आपकी एक्टिंग में भी सुधार आएगा।
  • साथ ही आप किसी डायरेक्टर के पास भी जा सकते हैं और बता सकते हैं की आपने इस थिएटर में इतने समय तक काम भी किया है।
  • वहा सिर्फ आपको अपना ऑडिशन देना होगा, और आपका सिलेक्शन होते ही आपको काम भी मिलेगा।

काफी लोगो के मन में ये डर भी होता है की Audition Kaise De? उन्हें कुछ इस तरह का डर सताता है-

  • हमसे पता नहीं क्या पूछेंगे?
  • पता नहीं क्या करवाएंगे|
  • कैसा रोल मिलेगा|
  • वहा अच्छी तरह से एक्टिंग कर पाएंगे या नहीं?

Acting Audition Tips:

  • आपको जो मर्ज़ी रोल मिले आपको अपने एक्शन से और अपने चेहरे के एक्सप्रेशन से ये दिखाना है की आप भी उस चीज़ को फील कर रहे हैं|
  • पुरे मन से उस किरदार को निभाए, चाहे आप अन्दर से डर रहे हो की आपने तो पहले उस किरदार की एक्टिंग तो की ही नहीं है|
  • आपका खुद का अपना स्टाइल होना चाहिए, आप गलती से भी किसी की कॉपी ना करे|
  • एक attitude रखे काम करते समय चाहे आपको उस काम की बहुत ही ज़रुरत हो, लेकिन सामने वाले को ज़ाहिर ना होने दे की आपको उस काम की कितनी ज्यादा ज़रुरत है|

तो अगर आपके पास acting school join करने का समय और पैसा नहीं तो आप theatre join कर के भी अपना acting line में जाने के सपने को बरकरार कर सकते हैं ।

स्कूल के बाहर भी अनुभव प्राप्त करें।

शिक्षित करे खुद को बहुत सारी किताबें या movies देखें, सीखते रहे।

अभ्यास परिपूर्ण बनाता है। (practice, practice, practice) जम के करें।

 वैसे अगर देखें तो एक्टिंग में करियर बनाने के लिए किसी स्कूल या कॉलेज वाली शिक्षा की कोई जरूरत नहीं है, लेकिन इस क्षेत्र के अच्छे कॉलेजों में दाखिले के लिए किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास या ग्रेजुएट होना जरूरी है।

सिनेमा के क्षेत्र में एक्टिंग के लिए कैसे होगी एंट्री:

Movie projector- entry into cinema,career in acting.

अगर आप किसी फिल्म स्टार परिवार से नहीं आते हैं तो इसकी राह आपके लिए थोड़ी कठिन जरूर होगी, मगर नामुमकिन नहीं। इस समय मॉडलिंग और एक्टिंग एक दूसरे के काफी नजदीक है। भारतीय फिल्म इंड्स्ट्री में ज्यादातर एक्टर मॉडल रह चुके हैं। एक्टिंग के बड़े मौकों की तलाश के बीच आप एंकरिंग, टीवी विज्ञापन, शो होस्टिंग, टीवी सीरियल में काम कर सकते हैं। फिल्म इंडस्ट्री में कई चीजें बदल चुकी हैं, वहां फिलहाल कई ऐसे बड़े एक्टर हैं जिन्होंने अपने दम पर सफलता हासिल की है।

Books on acting- अपने खाली समय में आप एक्टिंग के ऊपर जो किताबे आती है उनको ख़रीदे और उनको पढ़े। उसमे आपको काफी सारे acting kaise sikhe tips मिलेंगे। जिनको फॉलो कर के आप काफी कुछ सीख सकते हैं।

Practice-

घर में अपने परिवार वालो के सामने, अपने भाई बहन के सामने, अपने दोस्तों के सामने या फिर अकेले ही शीशे के सामने आप एक्टिंग करने की प्रैक्टिस कीजिये।

क्यूंकि दोस्तों ये तो आपने पढ़ा भी होगा और सुना भी होगा की – Practice Makes A Man Perfect तो आप मेहनत पूरी करें ।

YouTube for Acting-

अगर आप एक्टिंग सीखना चाहते तो आप YouTube की मदद ले सकते हैं| आप उसपर विडियो देखे और सीखे| इसके साथ ही आप देख सकते हैं की जिनको एक्टिंग का शौख हैं वो खुद अपनी विडियो बना के अपडेट करते हैं।

तो दोस्तों जब तक आपको कही काम नहीं मिलता है, आप भी अपनी विडियो बना के उसपर अपडेट करे। पैसो के साथ-साथ आपकी फैन फोल्लोविंग भी बढ़ेगी।

कहां से करें पढ़ाई: कुछ institute-

  • सत्यजीत रे फिल्म इंस्टीट्यूट, कोलकाता (http://srfti.ac.in/hindi/)
  • एशियन अकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलिविजन, नोएडा (https://aaft.com/)
  • अनुपम खेर की एक्टर प्रिपेयर्स इंस्टीट्यूट

फिल्म इंडस्ट्री की सकारात्मक बातें:

शोहरत और दौलत की कमी नहीं

काम करने के लिए ज्यादा से ज्यादा मौके मिलेंगे

रिटायरमेंट की कोई उम्र सीमा नहीं है

फिल्म इंडस्ट्री की नकारात्मक बातें:

काफी व्यस्त होगी जिंदगी

निजी जीवन में मीडिया की ताक-झांक

प्रतिस्पर्धा और असफलता के कारण होने वाले डिप्रेशन

अभिनय काल्पनिक परिस्थितियों में सच्चाई से व्यवहार करने को कहते हैं।

Acting is behaving truthfully under imaginary circumstances.

Read More :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Stay Updated!Subscribe करें और हमारे Latest Articles सबसे पहले पढ़े।